मेरठ दर्पण
Breaking News
मेरठ

32 हजार करोड की लागत से बनने वाला आरआरटीएस मार्च 2025 तक पूर्ण होगा-आयुक्त

आयुक्त ने की रीजनल रैपिड ट्रांजिट सिस्टम के कार्यों की समीक्षा

विभागीय अधिकारी परस्पर समन्वय के साथ कार्य करे-आयुक्त

 

मेरठ- आयुक्त सभागार में रीजनल रैपिड ट्रांजिट सिस्टम (आरआरटीएस) के कार्यों की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करते हुये आयुक्त अनीता सी0 मेश्राम ने कहा कि सभी संबंधित विभागीय अधिकारी परस्पर समन्वय के साथ कार्य करे। उन्होंने बताया कि नेषनल कैपिटल रीजनल ट्रान्सपोर्ट कारपोरेशन द्वारा मार्च 2025 तक कार्य पूर्ण करने की तिथि दी गयी है। उन्होंने बताया कि इसकी कुल लागत करीब रू0 32 हजार करोड आयेगी। इस अवसर पर कुल 15 बिंदुओं पर विस्तार से चर्चा की गयी व आवष्यक दिशा-निर्देष दिये गये।

आयुक्त अनीता सी0 मेश्राम ने निर्देषित किया कि जिलाधिकारी मेरठ भैंसाली वर्कशॉप शिफ्ट करने के लिए भूमि की आवष्यकता के संबंध में रिवाइजड प्रस्ताव शासन स्तर पर राजस्व विभाग को भेजे। आयुक्त ने गुलधर स्टेशन के लिए जमीन उपलब्धता के संबंध में आरएम यूपीएसआईडीसी को प्रकरण को जल्द से जल्द निस्तारित करने के निर्देश दिये। इसी प्रकार साहिबाबाद स्टेशन के लिए भूमि की उपलब्धता के संबंध में एनसीआरटीसी व यूपीएसआईडीसी के अधिकारियों को प्रकरण को निस्तारित करने के लिए निर्देष दिये गये।

आयुक्त ने मोदीनगर के मध्य में कराये जाने वाले कार्यों के लिए निर्देषित किया कि वह इसको चरणबद्ध तरीके से स्थानीय जिला प्रशासन के सहयोग से कराये। आयुक्त ने नगर निगम मेरठ के अधिकारियों को निर्देषित किया कि वह आरआरटीएस के मार्ग पर पडने वाले व उनकी परिधि में आने वाले खंभो आदि को प्राथमिकता पर हटवाये। वहीं मोदीनगर में ड्रेनेज के कार्यों के संबंध में उन्होने जल निगम के अधिकारियों को निर्देशित किया कि वह पैचिस में कार्यो को पूर्ण करते हुये उसको एनसीआरटीसी को हैण्डओवर करे ताकि आरआरटीएस का कार्य निर्बाध रूप से जारी रहे।

आयुक्त ने केसरगंज में मीड टनल वेनटिलेशन शेफ्ट के लिए जमीन की उपलब्धता कराने के लिए जिला पंचायत के अधिकारियों को निर्देषित किया कि वह शासन स्तर से समन्वय कर प्रकरण को प्राथमिकता पर निस्तारित कराना सुनिष्चित करे। इस अवसर पर कुल 15 बिंदुओं पर विस्तार से चर्चा की गयी व आवष्यक दिशा-निर्देश दिये गये।

इस अवसर पर अपर आयुक्त रजनीश राय, अपर जिलाधिकारी प्रषासन एम0एस0 गब्र्याल, वित्त सुभाश चन्द्र प्रजापति, एसडीएम सदर संदीप भागिया, निदेषक प्रोजेक्ट एनसीआरटीसी अनिल कुमार संगारिया, एनएचएआई के प्रोजेक्ट डायरेक्टर मुदित गर्ग, मुख्य अभियंता एनसीआरटीसी वीरेन्द्र कुमार, रोडवेज, नगर निगम, यूपीएसआईडीसी, विद्युत सहित अन्य संबंधित विभागों के अधिकारीगण उपस्थित रहे।

Related posts

वैश्य समाज सेवा समिति की सदस्यों में मनाया तीज उत्सव

आज का अंक

छात्रों ने सीमेंट कंक्रीट सड़क निर्माण की इंजीनियरिंग को समझा

Ankit Gupta

Leave a Comment

Trulli
error: Content is protected !!
Open chat
Need help?
Hello
Welcome to Meerut Darpan News