मेरठ दर्पण
Breaking News
Breaking newsअंतराष्टीयअर्थव्यवस्थाआधुनिकताफिल्मी दुनियाफैशनबुलंदशहरब्लॉगमेरठव्यापारसहारनपुरहापुड़

पहले चरण का मतदान सुबह सात बजे से हुआ शुरू,कोहरे में भी दिख रहा वोटरों में उत्साह

 

 

मेरठ- मेरठ सहित प्रदेश के 11 जिलों की 58 विधानसभा सीटों पर मतदान सुबह 7 बजे शुरू हो गया। मतदाताओं में सुबह से ही उत्साह दिखाई दे रहा है। मतदान केंद्रों पर सुबह ही वोटर मतदान करने के लिए लाइनें लगाकर खड़े हो गए। जैसे ही सात बजे मतदान केंद्रों पर मतदान शुरू हो गया। मेरठ की सभी 7 विधानसभा सीटों पर 7 बजे मतदान शुरू हुआ। हालांकि कुछ मतदान केंद्रों पर शुरूआती चंद मिनटों के लिए ईवीएम में कुछ परेशानी आई लेकिन उसको जल्द ही दूर कर लिया गया। मेरठ की सभी सात विधानसभा के 2962 मतदेय स्थल व 1172 मतदान केन्द्रों पर मतदाताओं में सुबह से ही उत्साह देखा जा रहा है। पिंक और आदर्श मतदान केंद्रों पर भी वोटर सुबह से ही अपने मत का प्रयोग करने के लिए पहुंचने शुरू हो गए थे। बता दें कि प्रदेश में पहले चरण के तहत पश्चिमी उप्र के 11 जिलों की 58 सीटों पर मतदान आज 10 फरवरी को हो रहा है। सभी मतदान केंद्रों पर भारी सुरक्षा व्यस्था है। इसके साथ ही कोविड प्रोटोकाल का भी पूरा पालन किया जा रहा है।
मेरठ जिले की 7 विधानसभा सीटों के लिए मतदान सुबह 7 बजे शुरू हो चुका है। आज मेरठ के मतदाता 80 प्रत्याशियों के भाग्य को ईवीएम में बंद करेंगे जिसका फैसला 10 मार्च को होगा। मेरठ दक्षिण विधानसभा क्षेत्र के शास्त्रीनगर स्थित आवास विकास में बने मतदान केंद्रों पर सुबह से ही मतदाताओं ने अपने मत का प्रयोग करना शुरू कर दिया। हालांकि शुरूआती दौर में मत प्रतिशत थोड़ा धीमा रहा। लेकिन उसके बार मतदाताओं की संख्या बढ़ती चली गई। मेरठ शहर विधानसभा में भी मुस्लिम बाहुल्य बस्तियों में बने मतदान केंद्रों पर मतदाताओं की लाइनें लगी हुई हैं। पहले चरण के मतदान में मेरठ के मतदाताओं में उत्साह देखा जा रहा है। मतदान केंद्रों पर कोरोना प्रोटोकाल का भी पूरा पालन कराया जा रहा है। बूथों पर सैनिटाइज और मास्क की व्यवस्था है। इसके अलावा मतदान केंद्रों के बाहर प्रत्याशियों के समर्थकों और पार्टियों ने अपने बस्ते लगाए हुए हैं। पार्टियों के इन बस्तों पर भी सैनिटाइजर और मास्क मतदाताओं को दिए जा रहे हैं। जिससे मतदान केंद्र में आने वाले मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग कर सकें। सभी बूथों पर सुरक्षा के भारी इंतजाम किए गए हैं। बिना मतदाता परिचय पत्र के किसी भी को भी बूथ के भीतर नहीं जाने दिया जा रहा है।

 

 

Related posts

ससुराल में हक पाने के लिए महिला बैठी धरने पर

श्री वेंक्टेश्वरा विश्वविद्यालय/संस्थान में ’’हनुमान प्रकृटोत्सव’’ पर सुन्दर काण्ड एंव विशाल भण्डारा

Ankit Gupta

वेंक्टेश्वरा समूह के चेयरमैन डॉ0 सुधीर गिरि को एक और अन्तर्राष्ट्रीय अवार्ड

Leave a Comment

Trulli
error: Content is protected !!
Open chat
Need help?
Hello
Welcome to Meerut Darpan News