मेरठ दर्पण
Breaking News
मेरठ

कातिल बेटे को नहीं पिता की हत्या का कोई पछतावा

मेरठ जनपद में एक युवक ने शराब के नशे में अपने ही पिता को मार डाला। घटना के बाद पुलिस उसे गिरफ्तार कर थाने ले गई। खास बात यह है कि वह हवालात में भी रातभर हंसता रहा। वहीं नशा उतरने के बाद भी उसे कोई पछताछा नहीं हुआ।

बता दें कि कोर्ट में पेश करने के बाद उसे 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया। पुलिस के अनुसार हत्यारोपी बेटे पर तीन मुकदमे दर्ज हुए हैं। एक केस विनोद के छोटे बेटे की तहरीर पर हत्या का, दूसरा पुलिस पर जानलेवा हमले का है और तीसरा इंस्पेक्टर ब्रह्मपुरी सुभाष अत्री ने शस्त्र अधिनियम के तहत दर्ज कराया है

ये था मामला
ब्रह्मपुरी निवासी सराफ विनोद वर्मा की उसके बेटे कृष्ण वर्मा ने शनिवार रात को गोली मारकर हत्या कर दी थी। घटना के बाद उसने पुलिस पर हमला भी किया था। पुलिस के मुताबिक, हत्यारोपी बेटा रात भर हवालात में हंसता रहा। सुबह नशा उतरा तो पुलिस ने पूछताछ की। आरोपी ने बताया कि वह अपनी पत्नी से पैसे मांग रहा था। तभी उसके पिता वहां पहुंच गए। उन्हें गोली लग गई।

वहीं ब्रह्मपुरी पुलिस ने परिवार के लोगों को भी थाने में बुलाया और विवाद का कारण पूछा। परिजनों ने बताया कि दो दिन से कृष्ण घर में पैसे को लेकर झगड़ा कर रहा था। शनिवार रात कृष्ण अपनी पत्नी को पीटने लगा और उसकी हत्या करने के लिए फायरिंग की थी।

अब परिवार पर आर्थिक संकट
परिजनों ने रविवार को गमगीन माहौल में शव का अंतिम संस्कार किया। परिजनों का रोकर बुरा हाल था। वे बार-बार कह रहे थे कि परिवार कैसे चलेगा। विनोद को बेटे ने मार दिया और बेटा पिता की हत्या के मामले में जेल चला गया। हत्यारोपी कृष्ण की पत्नी और तीनों बच्चे भी विलाप करते रहे।

परिजन बोले- इसकी शक्ल नहीं देखनी, इसे गोली मार दो
परिजनों में कृष्ण को लेकर बेहद गुस्सा था। वह बार-बार पुलिस से बोल रहे थे कि उसकी शक्ल नहीं देखनी है। आप उसे गोली मार दो। उसने जो किया, बहुत बुरा किया। पूरा परिवार तबाह हो गया, इस दिन के लिए उसे नहीं पाला था।

Related posts

आगामी पांच दिनों में शहरी व ग्रामीण दोनो क्षेत्रों में कराये एन्टी लार्वा छिडकाव, सैनेटाईजेशन व फोगिंग-जिलाधिकारी

जनपद मेरठ को प्रदेश की राजधानी से हवाई मार्ग से जोडा जायेगा- नागरिक उड्डयन मंत्री

उच्च शिक्षा के साथ-साथ ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रों में व्यवसायिक प्रशिक्षण के लिए आवश्यक है नई शिक्षा नीति

Leave a Comment

Trulli
error: Content is protected !!
Open chat
Need help?
Hello
Welcome to Meerut Darpan News