मेरठ दर्पण
Breaking News
दिल्लीमेरठ

शादी समारोह में अतिथियो की संख्या 200 से 50 करने पर टेंट डीलरों में आक्रोश, मेरठ में मीटिंग कर किया मुख्यमंत्री को ई मेल

मेरठ दर्पण-  शादी समारोह में अतिथियों की संख्या 200 से घटाकर 50 किए जाने पर आज आल इंडिया टेंट डीलर वेलफेयर आर्गेनाइजेशन की वेबनार के माध्यम से एक मीटिंग का आयोजन किया। मीटिंग की अध्यक्षता ऑल इंडिया टेंट डीलर वेलफेयर ऑर्गेनाइजेशन के अध्यक्ष विपुल सिंघल ने की तथा संचालन महामंत्री सरदार करतार सिंह कोचर ने किया। जिसके पश्चात एक पत्र दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल को मेल किया गया। जिसमें वैवाहिक—सामाजिक कार्यक्रमों में अतिथि की संख्या 200 से घटा कर 50 अतिथियों की संख्या सीमित किये जाने का विरोध करते हुए इस प्रस्ताव को वापिस लेने का आग्रह किया है।

केजरीवाल को भेजे गए पत्र में कहा गया है कि लॉकडाउन के कारण देश की आर्थिक गतिविधियाँ रूक गई हैं। विशेषकर,टैंट एवं आतिथ्य-सत्कार से जुड़े हुए कारोबार पूरी तरह से ठप्प हो गए हैं। इन व्यवसायों में काम करने वाले कामगारों के पास आय का अन्य कोई साधन नहीं है। जिससे वो अपना जीवनयापन कर सकें, जबकि स्थायी खर्चों में कोई कटौती सम्भव नहीं है। दिल्ली सरकार द्वारा दिल्ली में होने वाले वैवाहिक / सामाजिक कार्यक्रमों में अधिकतम अतिथियों की अनुमति 200 से घटा कर 50 करने की सिफारिश की है।

मंडप तथा टेंट स्वामियों ने लोगों से वैवाहिक / सामाजिक कार्यक्रमों के लिए एडवांस ले रखा है, तथा अगामी नवम्बर एवं दिसम्बर माह में होने वाले कार्यक्रमों की बुकिंग की हुई है। वर वधु के माता-पिता ने भी लोगों को शादी के निमंत्रण दे रखे हैं तथा कार्ड बांटे हुए हैं। ऐसे में बुकिंग कैंसिल करना अथवा अतिथियों की संख्या कम करना असंभव है, साथ ही सरकारी राजस्व का भी ऐसे में भारी नुकसान होगा। शादी विवाह से जुड़े व्यवसायियों का पहले ही बहुत नुकसान हो चुका है। हम भरोसा दिलाते हैं कि हम सरकार द्वारा निर्देशित सभी का ध्यान रखते हुए जैसे न्यूनतम 6 गज की दूरी सैनिटाइजेशन, मास्क, ग्लव्स, कैप का प्रयोग कर किसी भी प्रकार से संक्रमण को फैलने नही देंगे। वैवाहिक / सामाजिक कर्यर्क्रमों में अधिकतम अतिथि की संख्या 200 से घटा कर 50 अतिथि करने का प्रस्ताव को वापस लेने की मांग की है। मीटिंग में अध्यक्ष विपुल सिंघल, महामंत्री सरदार करतार सिंह कोचर, चेयरमैन अनिल आजाद वाइस चेयरमैन नवीन कुमार अग्रवाल, कोषाध्यक्ष प्रिंस रत्नानी, अमरजीत सिंह दुआ, प्रेम, कैलाश खंडेलवाल ,शिशुपाल बाबा, राजकुमार, सतीश सेठी, दीपक मित्तल, विजेंद्र सिंह मान ,एसएस शास्त्री, रवि बाबा दुआ, रामनाथ, रमेश कुमार ,हरभजन सिंह होरा, सहित अन्य लोग मौजूद रहे।

Related posts

जहरीली शराब से एक ओर ग्रामीण की अस्पताल में मौत

24 घंटे में फिर मिले और 8 कोरोना संक्रमित

उत्तराखंड में सियासी संकट सीएम त्रिवेन्द सिंह रावत दिल्ली रवाना, आलाकमान ने किया तलब

Leave a Comment

Trulli
error: Content is protected !!
Open chat
Need help?
Hello
Welcome to Meerut Darpan News