मेरठ दर्पण
Breaking News
धार्मिक विशेष

गणपति को भोग लगाइये स्वादिष्ट और हेल्दी स्टीम मोदक का। जाने रेसेपी।

गणपति आ रहे हे। और सभी जानते हे की गणपति को सबसे ज्यादा प्रिय मोदक होते हे। मोदक को फ्राई या स्टीम करके भी बनाया जाता हे। तो चलिए आज हम आपको स्टीम मोदक की रेसिपी बताते हे। जो की हेल्थ के साथ साथ भगवान को भी खुश कर देगी।सामग्री :चावल का आटा – 2 कप, गुड़ – 1 .5 कप (बारीक तोड़ा हुआ ), कच्चे नारियल – 2 कप ( बारीक कद्दूकस किया हुआ ), काजू – 4 टेबल स्पून ( छोटे छोटे टुकड़ों में काट लीजिये ), किशमिश – 2-3 टेबल स्पून, खसखस – 1 टेबल स्पून ( गरम कढ़ाई में डालकर हल्का सा रोस्ट कर लीजिये), इलाइची – 5 -6( छील कर कूट लीजिये ), घी – 1 टेबल स्पून, नमक – आधा छोटी चम्मचविधि:गुड़ और नारियल को कढ़ई में डाल कर गरम करने के लिये रखें. चमचे से चलाते रहें, गुड़ पिघलने लगेगा चमचे से लगातार चला कर भूने, जब तक गुड़ और नारियल का गाढ़ा मिश्रण न बन जाय. इस मिश्रण में काजू, किशमिश, खसखस और इलाइची मिला दें. यह मोदक में भरने के लिये पिठ्ठी तैयार है.2 कप पानी में 1छोटी चम्मच घी डाल कर गरम करने रखिये. जैसे ही पानी में उबाल आ जाय, गैस बन्द कर दीजिये और चावल का आटा और नमक पानी में डाल कर चमचे से चला कर अच्छी तरह मिला दीजिये और इस मिश्रण को 5 मिनिट के ढक कर रख दीजिये.अब चावल के आटे को बड़े बर्तन में निकाल कर हाथ से नरम आटा गूथ कर तैयार कर लीजिये. यदि आटा सख्त लग रहा हो तो 1 – 2 टेबल स्पून पानी और डाल सकते हैं, एक प्याली में थोड़ा घी रख लीजिये. घी हाथों में लगाकर आटे को मसलें, जब तक कि आटा नरम न हो जाय. इस आटे को साफ कपड़े से ढक कर रखें.हाथ को घी से चिकना करें और गूथे हुये चावल के आटे से एक नीबू के बराबर आटा निकाल कर हथेली पर रखें, दूसरे हाथ के अँगूठे और उंगलियों से उसे किनारे पतला करते हुये बढ़ा लीजिये, उंगलियों से थोड़ा गड्डा करें और इसमें 1 छोटी चम्मच पिठ्ठी रखें. अँगूठे और अँगुलियों की सहायता मोड़ डालते हुये ऊपर की तरफ चोटी का आकार देते हुये बन्द कर दीजिये. सारे मोदक इसी तरह तैयार कर लीजिये.किसी चौड़े बर्तन में 2 छोटे गिलास पानी डाल कर गरम करने रखें. जाली स्टैन्ड लगाकर चलनी में मोदक रख कर भाप में 10 – 12 मिनिट पकने दीजिये. आप देखेंगे कि मोदक स्टीम में पककर काफी चमक दार लग रहे हैं. मोदक तैयार हैं.मोदक को प्लेट में निकाल कर लगायें, और गरमा गरम परोसिये और खाइये.

Related posts

संत रविदास जयंती पर अनेक कार्यक्रम

Ankit Gupta

अखिलेश यादव ने ईदगाह पहुच दी ईद की बधाई

बरसात के मौसम में ऐसे बनाएं डाइट, दूर होंगी बीमारियां

Ankit Gupta

Leave a Comment

Trulli
error: Content is protected !!
Open chat
Need help?
Hello
Welcome to Meerut Darpan News