मेरठ दर्पण
Breaking News
शामली

कृषि कानून के लिए समर्थन जुटाने खाप पंचायतों के चौधरियों से मिलने पहुंचे भाजपा नेता,ग्रामीणों ने किया विरोध

शामली- कृषि कानून के खिलाफ जारी किसान आंदोलन साथ ही अब भाजपा ने खाप पंचायतों से संपर्क बनाना शुरू कर दिया है. इसको लेकर उत्तर प्रदेश के शामली जनपद में बीजेपी नेताओं ने खाप चौधरियों से किसान धरना व पंचायतों को लेकर बातचीत शुरू कर दी है. गृहमंत्री अमित शाह के निर्देशन पर बीजेपी की एक कोर टीम शामली जनपद में पहुंची है जो खाप चौधरियों को मनाने का प्रयास कर रही है. कैबिनेट मंत्री समेत कई बीजेपी के बड़े नेता खापों के प्रमुखों के घर पहुंचकर उन्हें कृषि कानून के फयदे गिनाकर सरकार के समर्थन में आने की अपील करते देखे जा रहे हैं.

जो टीम खाप महापंचायतों से संपर्क करने पहुंची है उसमें बीजेपी कोर टीम से कैबिनेट मंत्री संजीव बालियान व पंचायती राज मंत्री भूपेंद्र चौधरी सहित मेरठ मंडल अध्यक्ष मोहित बेनीवाल व सदर विधायक तेजेंद्र निर्वाल मौजूद हैं. उन्होंने सदर कोतवाली क्षेत्र के गांव लिसाड़ पहुंचकर खाप चौधरी से मुलाकात की है. बीजेपी नेता गठवाला खाप के चौधरी हरीकृष्ण के घर पहुंचे और वहां पर उन्होंने किसानों व खाप चौधरी से कृषि कानून को लेकर बातचीत की. दिल्ली गाजीपुर बॉर्डर पर चल रहे धरने में सहयोग न करने की भी बात कही है. बीजेपी नेताओं का प्रयास है कि वह गांव गांव जाकर किसानों को कृषि कानून के बारे में जानकारी दें जिससे दिल्ली के चारों तरफ चल रहे किसान धरने को खत्म कराया जा सके.

खाप चौधरी से मुलाकात कर बीजेपी नेताओं ने बताया कि कृषि कानून किसानों के हित में है. कुछ राजनीतिक दलों के चक्कर में आकर किसान गाजीपुर बॉर्डर पर धरना दे रहे हैं. जिससे पूरी किसान बिरादरी बदनाम हो रही है. बीजेपी नेताओं ने गठवाला खाप के चौधरी हरीकृष्ण से मुलाकात कर किसान आंदोलन से निजात पाने का उपाय जानने की कोशिश की है. उनकी बातों को सुनकर राष्ट्रीय नेतृत्व तक बात पहुंचाने का जिम्मा लिया है.

कई जगह हुआ भाजपा कोर टीम का विरोध

हालांकि कई क्षेत्रों में बीजेपी नेताओं की कोर टीम का खाप चौधरियों ने विरोध भी किया है. कई खापों के चौधरियों ने बीजेपी नेताओं से बात करने से इंकार कर दिया है और गांव में घुसने से भी मना किया है. कुछ खाप चौधरी चाहते हैं कि वह किसान आंदोलन के साथ हैं और किसी भी तरह से वह बीजेपी नेताओं से मुखातिब नहीं होना चाहते हैं, क्योंकि उनका पूर्ण समर्थन किसान आंदोलन के साथ है. बीजेपी नेता अगर कृषि कानून को लेकर उनसे बात करना चाहते हैं और किसान आंदोलन में सहयोग देना चाहते हैं तो वह पहले पार्टी से इस्तीफा दें उसके बाद खाप चौधरियों से बात करने पहुंचे.

 

आसान नहीं है खापों का समर्थन पाना
दरअसल, बीजेपी के कैबिनेट मंत्री संजीव बालियान सहित पंचायती राज मंत्री भूपेंद्र चौधरी व मंडल अध्यक्ष मोहित बेनीवाल सदर विधायक राष्ट्रीय नेतृत्व के निर्देशन पर खाप चौधरी से मुलाकात करने के लिए पहुंचे हैं. इस मुलाकात के जरिए बीजेपी नेता खाप चौधरियों को अपने समर्थन में लेना चाहते हैं. वह एक कोर टीम गठित कर खाप चौधरी को मनाने के लिए गांव-गांव जाकर उनसे वार्ता कर रहे हैं, लेकिन बीजेपी का यह मंथन कितना कामगार साबित होगा यह तो आने वाला वक्त ही तय करेगा. फिलहाल बीजेपी नेताओं का रुख है खाप चौधारियो को अपने पक्ष में लेने का है.

Related posts

नशीले पदार्थ का तस्कर गिरफ्तार

चोरी के माल सहित दो चोर गिरफ्तार

Mrtdarpan@gmail.com

पुलिस लाइन शामली में यूपी 112 के परीक्षण कार्यक्रम का पुलिस अधीक्षक द्वारा समापन

Leave a Comment

Trulli
error: Content is protected !!
Open chat
Need help?
Hello
Welcome to Meerut Darpan News