मेरठ दर्पण
Breaking News
बागपत

बड़ौत तहसील परिसर में शुरू हुई किसानों की महापंचायत

वही सीओ बड़ौत की उस चेतावनी को भी किसानों ने धता बता दिया। जिसमें उन्होंने कहा था कि धारा 144 के तहत पंचायत नहीं करने दी जाएगी। आज किसानों ने दिखा दिया कि वह किसान एकता के लिए कुछ भी कर सकते हैं। तीनों कृषि कानूनों के खिलाफ उनका आंदोलन कोई बाधित नहीं कर सकता।शायद प्रशासन को यह उम्मीद नहीं थी कि बड़ौत में महापंचायत हो जाएगी।

प्रशासन की खुफिया एजेंसियां भी धराशाई रह गई। प्रशासन की ओर से लगातार यह प्रयास किए जाते रहे कि यह पंचायत न होने दी जाए। लेकिन जब बड़ौत के चारों ओर से ट्रैक्टरों पर तिरंगा एवं भारतीय किसान यूनियन के झंडे लगाकर किसान तहसील गेट में घुसने लगे तो पुलिस एवं प्रशासन के अधिकारियों ने अपने पैर पीछे खींच लिए। वहां जाने वालों को कुछ नहीं कहा।

पंचायत स्थल पर सुबह 10 बजे से ही तहसील में लोग पहुंचने शुरू हो गए थे। लेकिन जैसे ही दिन का एक बजा तो वहां ऐसा हुजूम उमड़ा कि पैर रखने की भी तहसील में ही नहीं बल्कि बाहर हाईवे पर भी जगह नहीं रही थी। डीएम एडीएम एससी एसटी के अलावा जिलेभर के पुलिस एवं प्रशासनिक अधिकारियों के अलावा आसपास के जिलों की भारी भरकम पुलिस व पीएसी बड़ौत में तैनात रही।

आसपास के जिलों के दबंग पुलिस अधिकारियों को लगाया गया था। यह पुलिस अधिकारी क्षेत्र के लोगों से लगातार संपर्क में रहे। पुलिस की निगाह यह रही कि बड़ौत में कहीं हाईवे या तहसील में धरना ने शुरू न हो जाए। हालांकि किसानों की ऐसी कोई इच्छा नहीं थी।

Related posts

ब्रहमचारियो ने किया यौगिक क्रियाओं का प्रदर्शन

भाजपा पिछड़ा मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष का किया स्वागत

Mrtdarpan@gmail.com

सिंगल यूज प्लास्टिक बहिष्कार अभियान के अंतर्गत जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन

Ankit Gupta

Leave a Comment

Trulli
error: Content is protected !!
Open chat
Need help?
Hello
Welcome to Meerut Darpan News