मेरठ दर्पण
Breaking News
मेरठ

कोविड-19 वैक्सीन लगवाने से पहले और उसके बाद क्या करें जानिए ये जरूरी बातें

 

मेरठ। कोरोना वैक्सीन के दुष्प्रभाव पर कई संदेह हैं। इसी कारण से लोग टीका लगवाने से हिचकिचा रहे हैं। कोरोना वायरस महामारी की दूसरी लहर का प्रकोप के बीच वैक्सीन का काम भी तेजी से चल रहा है। हालाँकि, वैक्सीन के दुष्प्रभावों के बारे में लोगों में संदेह बना हुआ है। जिसके चलते लोग टीका लगवाने से हिचकिचा रहे हैं। ऐसे में वैक्सीन लगने से पहले और बाद में क्या किया जाना चाहिए इसको लेकर स्वास्थ्य मंत्रालय ने पहले भी एक गाइडलाइन जारी ​की थी। लेकिन वैक्सीनेशन को लेकर लोगों में जो भ्रम है उसको लेकर एक बार फिर से ये गाइडलाइन जारी की गई है। स्वास्थ्य विभाग का मानना है कि इससे वैक्सीन के बारे में बना भ्रम दूर होगा और लोगों में वैक्सीनेशन के बारे में जागरूता बढेगी।

जारी गाइडलाइन के अनुसार 6 स्टेप में लोगों को इसके लिए बताया गया है। जिसमें :-
स्टेप -1: अगर आपको पहले कभी किसी वैक्सीन से एलर्जी हुई है
चरण -2: स्वास्थ्य स्थितियों का आकलन किया जाना चाहिए
चरण -3: दुष्प्रभाव के बारे में जानकारी दी जानी चाहिए
चरण -4: इसके बाद वैक्सीन लगाया जा सकता है
स्टेप-5: वैक्सीन लगाने के बाद 15 मिनट आकलन
चरण -6: तुरंत चिकित्सा पर्यवेक्षक को प्रतिक्रिया के बारे में बताएं
स्टेप -1: अगर आपको पहले कभी किसी वैक्सीन से एलर्जी हुई है
जिस व्यक्ति को कोविड -19 के साथ टीका लगाया जाता है, उसे पूछना चाहिए कि क्या उसे कभी किसी वैक्सीन से एलर्जी या प्रतिक्रिया हुई है। यदि यह पहले हुआ है तो व्यक्ति को एलर्जी विशेषज्ञ के पास भेजा जाना चाहिए। किसी विशेषज्ञ की सलाह पर आगे बढ़ना चाहिए।

चरण -2: एहतियात के तौर पर वैक्सीन निर्माता द्वारा बताई गई स्वास्थ्य स्थितियों का आकलन किया जाना चाहिए। इसमें गर्भावस्था, प्रतिरक्षा प्रणाली और बुजुर्ग व्यक्तियों में कोई गंभीर बीमारी शामिल है। इन शर्तों वाले लोग टीकाकरण के लिए पात्र हैं, लेकिन उन्हें आवश्यक जानकारी और सलाह दी जानी चाहिए।
चरण -3: वैक्सीन लगाने के बाद, कुछ दुष्प्रभाव हैं, जिसका अर्थ है कि टीका शरीर में काम कर रहा है। इन दुष्प्रभावों में हाथ दर्द, हल्का बुखार, थकान, सिरदर्द, मांसपेशियों या जोड़ों में दर्द शामिल हैं।
स्टेप-4: टीकाकरण के बाद टीका लगाए गए व्यक्ति का मूल्यांकन 15 मिनट के लिए किया जाना चाहिए। वहीं, जिस किसी को वैक्सीन से एलर्जी है, उसे कोरोना वैक्सीन लगाने के 30 मिनट बाद आकलन करना चाहिए। इसके अलावा, व्यक्ति को यह भी सूचित किया जाना चाहिए कि आगे की प्रतिक्रिया होने पर कहां रिपोर्ट करना है।
चरण -6: वैक्सीन लगाने के बाद, यदि व्यक्ति को कोई अप्रत्याशित या गंभीर प्रतिक्रिया और एलर्जी है, तो इसे तुरंत चिकित्सा पर्यवेक्षक को सूचित किया जाना चाहिए।

Related posts

घने कोहरे ने ले ली शिक्षक की जान चार गंभीर

व्यापारियों की समस्याओ का निस्तारण प्राथमिकता पर कराया जायेगा-अपर जिलाधिकारी नगर

सुभारती विश्वविद्यालय में आयोजित महारोज़गार मेले में उमडे़ विद्यार्थीं

Mrtdarpan@gmail.com

Leave a Comment

Trulli
error: Content is protected !!
Open chat
Need help?
Hello
Welcome to Meerut Darpan News