मेरठ दर्पण
Breaking News
मेरठ

जिलाधिकारी ने किया मेडिकल कॉलेज व जिला अस्पताल का औचक निरीक्षण

मेरठ के नवनियुक्त जिलाधिकारी के बालाजी ने आज रात्रि में पदभार ग्रहण करने के बाद एलएलआरएम मेडिकल कॉलेज जिला अस्पताल व जिला महिला अस्पताल का औचक निरीक्षण किया उन्होंने कहा कि कोरोना के नियंत्रण के गंभीर प्रयास किए जाएंगे। उन्होंने कहां की मरीजों को अच्छा उपचार दिया जाए तथा उनकी निरंतर सेवा की जाए व सतत निगरानी की जाए उन्होंने वहां भर्ती मरीजों में से क्रिटिकल केस की जानकारी ली तथा शवों के निस्तारण के लिए ट्रांसपेरेंट बॉडी बैक कवर में शवों को उनके परिजनों को सौंपने के लिए कहा ताकि जो घटना पूर्व में मेडिकल कॉलेज में प्रकाश में आई है उसकी पुनरावृत्ति ना हो|

जिलाधिकारी के बालाजी ने लाला लाजपत राय स्मारक मेडिकल कॉलेज का निरीक्षण कर वहां डेमोंसट्रेशन सेंटर में मेडिकल सुपरिटेंडेंट, उप प्रधानाचार्य व प्रशासनिक अधिकारियों के साथ बैठक की ,उन्होंने वहां बेड की उपलब्धता ऑक्सीजन सिलेंडर की उपलब्धता आदि की जानकारी ली तथा सीसीटीवी कैमरे से की जा रही मॉनिटरिंग को भी देखा

उन्होंने कहा कि जिन मरीजों की मृत्यु हो जाती है उनको ट्रांसपेरेंट बॉडी कवर में रखा जाए जिस पर कोरोना वार्ड प्रभारी डॉ सुधीर राठी ने बताया कि ट्रांसपेरेंट बॉडी कवर लेने के प्रयास किए जा रहे हैं साथ ही जिला अधिकारी ने उपस्थित डॉक्टरों से डेथ एनालिसिस का डाटा मांगा तथा बढ़ती मृत्यु पर कारण जाना जिस पर कोरोना वार्ड प्रभारी डॉ राठी ने बताया कि अधिकतर मृत्यु मरीज के भर्ती होने के 48 घंटे के अंदर ही हुई है अर्थात ऐसे केस जो भर्ती होने के समय ही क्रिटिकल थे व अन्य कई बीमारियों से पीड़ित रहे हैं या ऐसे मरीज जिनमें सात-आठ दिन में भी कोई इंप्रूवमेंट नजर नहीं आ रहा है उन्होंने कहा कि डॉक्टरों की टीम द्वारा निरंतर व सतत प्रयास मृत्यु रोकने के किए जा रहे हैं डॉक्टर सुधीर राठी ने बताया कि वर्तमान में मेडिकल कॉलेज में 142 कोरोना मरीज भर्ती हैं|

जिलाधिकारी द्वारा प्लाज्मा थेरेपी से कोरोना मरीजों के इलाज के बारे में पूछे जाने पर डॉक्टर सुधीर राठी ने बताया कि इस संदर्भ में मेडिकल कॉलेज में सुभारती मेडिकल कॉलेज से एक एमओयू साइन किया है| जिला अधिकारी द्वारा कोरोना के अतिरिक्त अन्य मरीजों के इलाज के संदर्भ में पूछे जाने पर डॉक्टर सुधीर राठी ने बताया कि वर्तमान में मेडिकल कॉलेज में इमरजेंसी, सेमी इमरजेंसी व उम्मेद अस्पताल संचालित हैं तथा ओपीडी के लिए टेली मेडिसिंस की व्यवस्था मेडिकल कॉलेज द्वारा की गई है

जिला अधिकारी ने एंबुलेंस की उपलब्धता, ऑक्सीजन सिलेंडर की उपलब्धता की जानकारी ली उन्होंने कहा कि जिन मरीजों की मृत्यु कोरोना के कारण हो जाती है उनके शव को पारदर्शिता के साथ उनके परिजनों को सौंपा जाए तथा शवों को ट्रांसपेरेंट बॉडी बैक कवर में ही रखा जाए

वही मेडिकल कॉलेज के निरीक्षण के उपरांत नवनियुक्त जिलाधिकारी के बालाजी ने प्यारे लाल शर्मा जिला अस्पताल व जिला महिला अस्पताल का औचक निरीक्षण किया उन्होंने जिला अस्पताल में इमरजेंसी वार्ड में दी जा रही सेवाओं का निरीक्षण किया तथा जिला महिला अस्पताल में भी दी जा रही विभिन्न सेवाओं का निरीक्षण किया उन्होंने कहां कि मरीजों को अच्छा उपचार उपलब्ध कराए जाए तथा मरीजों व उनके परिवार से अच्छा व्यवहार रखा जाए

उन्होंने मेडिकल कॉलेज के डॉक्टर से व जिला अस्पताल व जिला महिला अस्पताल के डॉक्टर से कहा कि अगर उन्हें प्रशासन की तरफ से कोई मदद या चीज की आवश्यकता है तो वह उन्हें आवश्यक रूप से सूचित करें ताकि उसको उपलब्ध कराए जा सके|

इस अवसर पर मेडिकल कॉलेज के प्रधानाचार्य डॉ विनय अग्रवाल, कोविड वार्ड प्रभारी डॉ सुधीर राठी, डॉ विपिन धामा मुख्य विकास अधिकारी साधन एडीएम सिटी अजय तिवारी सहित अन्य अधिकारी गण उपस्थित रहे

Related posts

जिलाधिकारी ने किया मतदान केन्द्रो का निरीक्षण

रोहटा रोड पर टीकाकरण केंद्र का ए सी एम ने किया निरीक्षण

हर्षोल्लास से मनाया भारतीय योग संस्थान का 56वां स्थापना दिवस

Ankit Gupta
Trulli
error: Content is protected !!
Open chat
Need help?
Hello
Welcome to Meerut Darpan News