मेरठ दर्पण
Breaking News
लखनऊ

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अनलॉक रिव्यू बैठक में साफ किया है कि प्रदेश में सिर्फ शनिवार और रविवार को ही साप्ताहिक बंदी रहेगी. उन्होंने इस पर अफसरों को सख्ती से अमल करने को कहा है.

लखनऊ : उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने यूपी में अब तक कोविड-19 के 50 लाख 80 हजार से अधिक टेस्ट किए जाने पर संतोष व्यक्त किया है. उन्होंने मेडिकल टेस्टिंग के कार्य को पूरी तेजी से संचालित करने के निर्देश दिए हैं. सीएम योगी ने गुरुवार को अपने सरकारी आवास पर उच्चस्तरीय बैठक में अनलॉक व्यवस्था की समीक्षा की. उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण की चेन को तोड़ने के लिए मेडिकल टेस्टिंग के साथ-साथ सर्विलांस, कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग और डोर-टू-डोर सर्वे की भी महत्वपूर्ण भूमिका है.

कोविड मरीजों में एचएफएनसी का अच्छा रिस्पांस :
——————————————————————-
सीएम ने कोविड चिकित्सालयों की व्यवस्थाओं को चुस्त-दुरुस्त बनाए रखने के निर्देश देते हुए कहा कि कोविड अस्पतालों में वेंटीलेटर सहित सभी मेडिकल उपकरण क्रियाशील रहने चाहिए. ऑक्सीजन का 48 घंटे का बैकअप भी अनिवार्य रूप से उपलब्ध रहना चाहिए. कोविड मरीजों में एचएफएनसी (हाई फ्लो नेजल कैन्युला) का अच्छा रिस्पांस खने में आया है. इसके दृष्टिगत इस उपचार विधि को भी क्रियाशील रखा जाए. सीएम योगी ने लखनऊ, कानपुर नगर, गोरखपुर और शाहजहांपुर में विशेष सतर्कता बरतने के निर्देश देते हुए इन जिलों की चिकित्सा व्यवस्था को सुदृढ़ बनाए रखने के निर्देश दिए हैं.

साप्ताहिक बंदी सख्ती से लागू करें :
—————————————————-
मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश के सभी बाजारों की साप्ताहिक बन्दी शनिवार व रविवार को ही रहेगी. राज्य में प्रत्येक शनिवार और रविवार को स्वच्छता, सेनिटाइजेशन एवं फॉगिंग का विशेष अभियान संचालित किया जा रहा है. इन कार्यों से जहां कोरोना की चेन को तोड़ने में मदद मिल रही है, वहीं संचारी रोगों पर भी प्रभावी नियंत्रण स्थापित हो रहा है. उन्होंने जिलाधिकारियों को बाजारों की साप्ताहिक बन्दी सख्ती से लागू कराने के निर्देश दिए हैं.

बाढ़ को लेकर समीक्षा —————————————-
वहीं प्रदेश में बाढ़ को लेकर मुख्यमंत्री ने कहा कि शासन द्वारा बाढ़ प्रभावित जनता के लिए सभी प्रकार की मदद की व्यवस्था की गई है. उन्होंने बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में राहत कार्यों को प्रभावी ढंग से संचालित करने के निर्देश देते हुए कहा कि प्रभावित लोगों को मकान के क्षतिग्रस्त होने पर मुआवजा अविलम्ब उपलब्ध कराया जाए. किसानों को खाद की उपलब्धता में कोई असुविधा न होने पाए, इसके लिए खाद की कालाबाजारी करने वालों के खिलाफ सख्त कार्यवाही के साथ-साथ खाद की सुगम आपूर्ति के लिए सभी प्रबन्ध किए जाएं.

Related posts

यूपी में 19 अक्तूबर से खुलेंगे स्कूल, 50 फीसदी विद्यार्थियों को ही बुलाया जा सकेगा, जानें क्या बरतनी होगी सावधानी

Mrtdarpan@gmail.com

यूपी में स्कूलों में फीस को लेकर बड़ा ऐलान, इस साल नहीं बढ़ा सकेंगे फीस, खेल-परिवहन शुल्क भी नहीं लेंगे

निजी अस्पतालों में मुफ्त मिलेगी रेमडेसिविर, डीएम और सीएमओ को सीएम योगी ने दी जिम्मेदारी

Trulli
error: Content is protected !!
Open chat
Need help?
Hello
Welcome to Meerut Darpan News