मेरठ दर्पण
Breaking News
मेरठ

आयुक्त ने माँ सरस्वती की प्रतिमा के सम्मुख द्वीप प्रज्वलित कर किया कार्यशाला का उद्घाटन

आयुक्त सभागार में सांख्यिकीय आंकड़ों के संग्रहण हेतु संवेदीकरण कार्यशाला का आयोजन आयुक्त मेरठ मंडल मेरठ सेल्वा कुमारी जे० की अध्यक्षता में किया गया। कार्यशाला का उद्घाटन आयुक्त द्वारा माँ सरस्वती की प्रतिमा के सम्मुख द्वीप प्रज्वलित कर किया गया। इस अवसर पर मुख्य अतिथियों का स्वागत पौधे उपहार स्वरूप भेंट कर किया गया।

आयुक्त मेरठ मंडल मेरठ सेल्वा कुमारी जे० द्वारा अपने सम्बोधन में सांख्यिकीय आंकड़ो को शुद्ध एवं पूर्ण, संग्रह करने में सभी सम्बन्धित विभागों एवं उद्यमियों/व्यापारियों से सहयोग करने की अपेक्षा की गयी। उन्होने कहा कि सांख्यिकीय आंकड़ों के संग्रहण के लिए संवेदित आंकडों के विश्लेषण के पश्चात ही विषय की सही जानकारी हो पाती है। विभिन्न क्षेत्रों से संग्रहित आंकड़ों को पूर्ण रूप से गोपनीय रखा जाता है। आंकड़ो के संग्रहण, विश्लेषण से निष्कर्षात्मक तथ्यों के आधार पर सम्बन्धित क्षेत्र के विकास हेतु योजनाएं तैयार की जाती है। किसी भी अर्थव्यवस्था की वर्तमान स्थिति का प्रदर्शन आंकड़ों के द्वारा ही किया जा सकता है। मा0 मुख्यमंत्री जी की संकल्पना एवं प्रतिबद्धता है कि उत्तर प्रदेश की अर्थव्यवस्था को वन ट्रिलियन डालर बनाने हेतु समग्र रूप से प्रयास किया जाना अपेक्षित है।

उन्होने कहा कि राज्य स्तर पर नियोजन विभाग के अन्तर्गत अर्थ एवं संख्या प्रभाग द्वारा (जिला अर्थ एवं संख्याधिकारी कार्यालय जनपद स्तरीय कार्यालय) विभिन्न प्रकार के आंकड़ों का संग्रहण कराया जाता है जिसमें औद्योगिक सर्वेक्षण, राष्ट्रीय प्रतीक सर्वेक्षण, उपभोक्ता एवं थोक भाव संग्रहण, राज्य-व्यय अनुमान, ग्रामवार आधारभूत आंकड़े आदि के विषय में विभिन्न सेक्टरों एवं विभागों से आंकड़ों का संग्रहण, संकलन एवं प्रस्तुतीकरण कर शासन को प्रेषित किया जाता है। ऐसे सभी आंकड़ों के संकलन एवं विश्लेषण के पश्चात ही प्रदेश एवं राष्ट्र की अर्थव्यवस्था की गति का आंकलन किया जाता है। प्रदेश की अर्थव्यवस्था को वन ट्रिलियन डॉलर अर्थव्यवस्था बनाने में सही/ शुद्ध एवं पूर्ण आंकड़ों का संकलन किया जाना है।

कार्यशाला में जिलाधिकारी दीपक मीणा द्वारा सभी जनपदवासियों से त्रुटिरहित आंकडे ससमय उपलब्ध कराने का आह्वान किया गया। उन्होने कहा कि एनएसएसओ तथा जनपद अर्थ एवं संख्याधिकारी कार्यालय द्वारा मांगी जाने वाली रिपोर्ट एवं अन्य किसी भी प्रकार के सर्वेक्षण कार्यों हेतु समस्त सरकारी, अर्द्धसरकारी एवं निजी संस्थान सहयोग प्रदान करें तथा ससमय त्रुटिरहित आंकडे प्रेषित करें।

आंकड़ों के संवेदीकरण के विभिन्न विषयों पर व्यापक जानकारी प्रदत्त करते हुए मुख्य वक्ताओं में श्री जितेन्द्र कुमार यादव, उप निदेशक अर्थ एवं संख्या, मेरठ मण्डल, मेरठ, एनएसएसओ से श्री मधुसूदन शर्मा, श्री सम्भव भाटी, अर्थ एवं संख्याधिकारी श्री अतुल सक्सैना, श्री पंकज कुमार द्वारा विभिन्न विषयगत बिन्दुओं की व्यवहारिक एवं वैधानिक स्थिति को स्पष्ट किया गया तथा विभागीय कार्यो को पूर्ण करने में उपयोग की जाने वाली रीतियों एवं पद्धतियों के बारे में व्यापक रूप से वर्णन किया। गोष्ठी का संचालन श्री पंकज कुमार अर्थ एवं संख्याधिकारी द्वारा किया गया।

इस अवसर पर प्रभागीय निदेशक सामाजिक वानिकी प्रभाग राजेश कुमार, उप निदेशक अर्थ एवं संख्या, मेरठ मण्डल, मेरठ जितेन्द्र कुमार यादव, अर्थ एवं संख्याधिकारी अतुल सक्सैना, पंकज कुमार, सीएमओ डा0 अखिलेश मोहन, एनएसएसओ से मधुसूदन शर्मा, सम्भव भाटी, उद्योग से संबंधित समस्त विभाग, औद्योगिक राष्ट्रीय प्रतिदर्श सर्वेक्षण संगठन सहित अन्य संबंधित अधिकारीगण उपस्थित रहे।

Related posts

उत्तर प्रदेश में महिलाओं के साथ अपहरण लूट हत्या बलात्कार जैसे जघन्य घटनाओं की बाढ़ आ गई है-नवाब सोनी

मदरसा हदीसुल कुरआन अरेबिक काॅलेज में नारी सम्मान, सुरक्षा एवं स्वावलम्बन पर आयोजित हुयी एक विचार गोष्ठी

मेरठ-दिल्ली एक्सप्रेस वे पर वाहन की टक्कर से तेंदुए की मौत

Ankit Gupta

Leave a Comment

Trulli
error: Content is protected !!
Open chat
Need help?
Hello
Welcome to Meerut Darpan News