मेरठ दर्पण
Breaking News
मेरठ

कंकर खेड़ा में बनते है दिल्ली की कम्पनी के नकली गैस चूल्हे,सालो से चल रही है ये फेक्ट्री

दिल्ली की कंपनी के नाम से मेरठ में बनाए जा रहे थे नकली गैस चूल्हे

 

-लोकल कमिश्नर नियुक्त की गई शालू यादव ने माल जप्त कर लगाई सील

 

मेरठ- दिल्ली की एक नामी गैस चूल्हा बनाने वाली कंपनी के नाम पर मेरठ के कंकरखेड़ा शाक्यपुरी में फर्जी तरीके से नकली गैस चूल्हे बनाने का मामला प्रकाश में आया है। दिल्ली मजिस्ट्रेट कोर्ट में शिकायत करने के बाद वहां से कंपनी के वाइस प्रेसिडेंट और कोर्ट से लोकल कमिश्नर नियुक्त की गई शालू यादव के नेतृत्व में एक टीम यहां पहुंची। टीम ने संगम ट्रेडिंग कंपनी में छापा मारकर माल जप्त कर लिया। मौके पर पाए गए चूल्हे और अन्य सामान को सील कर दिया गया। आरोपी संगम ट्रेडिंग कम्पनी (फर्म) के खिलाफ कोर्ट में मुकदमा दर्ज कर लिया गया। यह कार्रवाई कंकरखेड़ा इंस्पेक्टर तपेश्वर सागर और कस्बा चौकी इंचार्ज मुकेश कुमार के सहयोग से पूरी हुई।

कंकरखेड़ा थाना इंस्पेक्टर तपेश्वर सागर ने बताया कि दिल्ली कोर्ट से लोकल कमिश्नर नियुक्त की गई शालू यादव के नेतृत्व में वकील पीआर चटर्जी, कृष्णा कुमार सिंह और सूर्य फ्लेम गैस चूल्हा बनाने वाली कंपनी के वाइस प्रेसिडेंट राजेश रजोरे कंकरखेड़ा थाने पहुंचे और बताया कि 179 शाक्यपुरी स्थित संगम ट्रेडर कंपनी में सूर्या कंपनी के नाम से नकली गैस चूल्हे तैयार किए जा रहे हैं। जो मेरठ और आसपास के क्षेत्र में सप्लाई करते हैं। उन्होंने फर्जी तरीके से दिल्ली की कंपनी सूर्या फ्लेम का नाम प्रयोग कर रखा है। जो दिल्ली में नामी कंपनी है। उन्होंने इसके खिलाफ कार्रवाई की मांग की। तब इंस्पेक्टर तपेश्वर सागर ने कस्बा चौकी इंचार्ज मुकेश कुमार और हेड कांस्टेबल उदयवीर गिरि, कांस्टेबल कुणाल और होमगार्ड जॉनी को भेजा। मौके पर पहुंचकर कमिश्नर शालू यादव को कंपनी के नाम से चूल्हे बने हुए मौके पर मिले। उन्होंने गैस चूल्हा और अन्य सामान को सील कर माल जप्त कर लिया। साथ ही मुकदमा दर्ज करने के आदेश दे दिए गए।

क्या था पूरा मामला
दिल्ली में सूर्या फ्लेम नाम से उद्योगनगर में 40 वर्ष पुरानी कंपनी है, जो गैस चूल्हा बनाती है। सूर्या फ्लेम कंपनी के वाइस प्रेसिडेंट राजेश ने बताया कि उन्हें काफी समय से डीलर द्वारा शिकायत मिल रही थी कि मेरठ कंकरखेड़ा में सुरा फिल्म नाम से नकली गैस चूल्हे बनाए जा रहे हैं। तब कंपनी से राजेश कंपनी के वकील कृष्णा कुमार सिंह और पीआर चटर्जी के अलावा दिल्ली कोर्ट से लोकल कमिश्नर नियुक्त की गई शालू यादव टीम को लेकर यहां पहुंची और यहां पर माल को जप्त कर सील लगा दी गई। मुकदमा भी दर्ज कर लिया गया है।

12 साल से बनाया जा रहा है नकली माल
179 शाक्यपुरी स्थित संगम ट्रेडिंग कंपनी 12 वर्ष से अधिक समय बीत गया। तब से यहां पर सूर्या फ्लेम नाम से गैस चूल्हे बनाए जा रहे हैं। लोगों का कहना है कि यहां पर नकली सामान तैयार हो रहा था। कई बार लोगों ने लोकल स्तर पर शिकायत भी की। लेकिन कोई बड़ी कार्रवाई नहीं हो सकी। अब दिल्ली स्थित कंपनी के पदाधिकारियों द्वारा फर्म से मौके पर माल पकड़ लिया गया है। इनके खिलाफ कार्रवाई की जा रही है।

Related posts

सोतीगंज में चोरी के वाहन काटने वालों की जानकारी देने वाले को मिलेगा इनाम

कैंट विधायक के प्रयास से सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के लिए 5 करोड़ 12 लाख स्वीकृत

किसान मामले में भाजपा को दाढ़ी मुंडवानी पड़ी और नाक कटवानी पड़ी- जयंत

Leave a Comment

Trulli
error: Content is protected !!
Open chat
Need help?
Hello
Welcome to Meerut Darpan News