मेरठ दर्पण
Breaking News
लखनऊ

अयोध्या, वाराणसी समेत अन्य धार्मिक स्थलों के लिए योगी सरकार ने खोला खजाना,पूरे बजट में किया मिला

लखनऊ. योगी सरकार ने अपने कार्यकाल का आखिरी बजट (UP Budget 2021) सोमवार को विधानसभा में पेश कर दिया. योगी सरकार ने पहली बार पेपर लेस बजट पेश किया. बजट के आकार के लिहाज से यह अब तक का सबसे बड़ा और ऐतिहासिक बजट है. योगी सरकार ने 5 लाख 50 हजार 270 करोड़ का बजट पेश किया है. कोरोना की वैश्विक महामारी के चलते अर्थव्यवस्था पर पड़े प्रतिकूल प्रभाव की चुनौतियों के बीच पेश किए गए इस बजट में हर वर्ग का ध्यान रखा गया है. बजट में किसानों, महिलाओं और नौजवानों के साथ अयोध्या, वाराणसी और चित्रकूट जैसे पौराणिक स्थलों का भी पूरा खयाल रखा गया है.

वित्त मंत्री सुरेश खन्ना ने अपने बजट भाषण में कहा कि श्री राम जन्म भूमि मंदिर और अयोध्या धाम तक पहुंच मार्ग के निर्माण हेतु 300 करोड़ रुपये की बजट व्यवस्था की गई है. साथ ही अयोध्या में पर्यटन सुविधाओं के विकास एवं सौन्दर्यीकरण के लिए 100 करोड़ रुपये की व्यवस्था प्रस्तावित की गई है. वाराणसी में पर्यटन सुविधाओं के विकास तथा सौन्दर्यीकरण के लिए 100 करोड़ रुपये की व्यवस्था प्रस्तावित है. मुख्यमंत्री पर्यटन स्थलों का विकास योजना के लिए 200 करोड़ रुपये की व्यवस्था प्रस्तावित की गयी है. चित्रकूट में पर्यटन विकास की विभिन्न yu योजनाओं के लिए 20 करोड़ रुपये की व्यवस्था प्रस्तावित की गयी है. इसके अतिरिक्त विन्ध्याचल एवं नैमिषारण्य में स्थल विकास को 30 करोड़ रुपये की व्यवस्था की गयी है.

उत्तर प्रदेश गौरव सम्मान की घोषणा

इसके अलावा योगी सरकार ने लखनऊ में उत्तर प्रदेश जनजातीय संग्रहालय के निर्माण हेतु 8 करोड़ रुपये तथा शाहजहांपुर में स्वतंत्रता संग्राम संग्रहालय की वीथिकाओं के लिए 4 करोड़ रुपये की व्यवस्था का प्रस्ताव रखा है. चौरी-चौरा कांड 100 वर्ष पूर्ण होने के उपलक्ष्य में चौरी-चौरा शताब्दी महोत्सव जो पूरे वर्ष चलेगा के लिए 15 करोड़ रुपये की व्यवस्था प्रस्तावित है. प्रदेश में ख्यातिलब्ध साहित्यकार एवं कलाकार जो अन्य किसी पुरस्कार से सम्मानित नहीं हो सके हैं , को ‘उत्तर प्रदेश गौरव सम्मान’ प्रदान किये जाने का निर्णय लिया गया है. इस योजना के अन्तर्गत प्रत्येक वर्ष अधिकतम 5 व्यक्तियों को सम्मानित किया जाएगा तथा सम्मानित प्रत्येक व्यक्ति को 11 लाख रुपये की सम्मान राशि प्रदान की जाएगी.

 

 

सीएम योगी ने बजट को सराहा
सीएम योगी ने अपने कार्यकाल के अंतिम बजट के लिए वित्त मंत्री की सराहना की है। उनका कहना है कि बजट को सभी वर्गों के उत्थान को ध्यान में रखते हुए तैयार किया गया है। यह बजट युवाओं को समर्पित है। उन्होंने पेपर लेस बजट के लिए वित्त मंत्री को विशेष धन्यवाद दिया।

01:03 PM, 22-FEB-2021

अयोध्या धाम तक पहुंच मार्ग
अयोध्या धाम तक पहुंच मार्ग के लिए 300 करोड़ की व्यवस्था। बजट में अयोध्या से संबंधित कई और घोषणाएं भी की गई हैं।
गरीब कलाकारों को 2000 रुपये प्रतिमाह पेंशन देगी सरकार।
12:58 PM, 22-FEB-2021

उच्च शिक्षा क्षेत्र में महत्वपूर्ण एलान
हर मंडल में एक राज्य विश्वविद्यालय बनेगा।
26 जिलों में माडल राजकीय महाविद्यालयों के लिए 200 करोड़ की व्यवस्था।
लखनऊ में बनेगा जनजातीय संग्रहालय, इसके लिए 8 करोड़ की व्यवस्था।
छात्रों को प्रोत्साहित करने के लिए राज्य गौरव पुरस्कार दिए जाएंगे।
12:55 PM, 22-FEB-2021

खादी और ग्रामोद्योग
मुख्यमंत्री ग्रामोद्योग रोजगार योजना के तहत सामान्य महिला एवं आरक्षित वर्ग के लाभार्थियों को दस लाख रुपये तक ब्याज रहित ऋण तथा सामान्य वर्ग के पुरुष लाभार्थियों को चार प्रतिशत वार्षिक ब्याज पर बैंकों के माध्यम से ऋण उपलब्ध कराने की व्यवस्था। माटीकला की परम्परागत कला एवं कारीगरों को संरक्षित-संवर्धित करने के लिए बजट में दस करोड़ रुपये की व्यवस्था प्रस्तावित।

12:52 PM, 22-FEB-2021

सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग के लिए घोषणाएं
प्रदेश में एक जिला- एक उत्पाद योजना के लिए 250 करोड़ रुपये की घोषणा।
उत्तर प्रदेश स्टेट स्पिनिंग कंपनी की बंद पड़ी कताई मिलों की परिसंपत्तियों को पुनर्जीवित कर पीपीपी मोड में औद्योगिक पार्क/आस्थान/क्लस्टर स्थापित कराए जाने का निर्णय। इसके लिए 100 करोड़ रुपये की व्यवस्था।
मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना के लिए 100 करोड़ रुपये की व्यवस्था।
शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों के पारंपरिक कारीगरों के लिए विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना के लिए 30 करोड़ रुपये बजट की व्यवस्था।
12:50 PM, 22-FEB-2021

आईटी एवं इलेक्ट्रानिक्स के लिए घोषणाएं
यमुना एक्सप्रेस वे में जेवर एअरपोर्ट के समीप एक इलेक्ट्रानिक सिटी की स्थापना।
बुंदेलखंड में रक्षा इलेक्ट्रॉनिक मैन्युफैक्चरिंग क्लस्टर की स्थापना का लक्ष्य।
12:44 PM, 22-FEB-2021

किसानों के लिए घोषणाएं
प्रदेश सरकार ने वर्ष 2022 तक किसानों की आय दोगुना करने का लक्ष्य रखा है।
इसके लिए वित्तीय वर्ष 2021-22 से आत्मनिर्भर कृषक समन्वित विकास योजना संचालित की जाएगी।
इस योजना के लिए 100 करोड़ रुपये प्रस्तावित किए गए हैं।
मुख्यमंत्री कृषक दुर्घटना कल्याण योजना के लिए 600 करोड़ रुपये बजट की व्यवस्था की गई है।
किसानों को मुफ्त पानी की सुविधा देने के लिए 700 करोड़ रुपये की बजट व्यवस्था की गई है।
रियायती दरों पर किसानों को फसली ऋण उपलब्ध कराने के लिए 400 करोड़ रुपये की व्यवस्था की है।
प्रधानमंत्री किसान ऊर्जा सुरक्षा एवं उत्थान महाभियान के लिए वर्ष 2021-22 के लिए 15 हजार सोलर पंपों की स्थापना का लक्ष्य निर्धारित किया है।
12:39 PM, 22-FEB-2021

औद्योगिक विकास एवं अवस्थापना के लिए की गई घोषणाएं
प्रदेश सरकार ने पूर्वांचल एक्सप्रेस वे के लिए 1107 करोड़ रुपये का एलान किया।
गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस वे के लिए 860 करोड़ रुपये का एलान किया।
बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे परियोजना के लिए 1492 करोड़ रुपये का एलान किया।
गंगा एक्सप्रेस वे परियोजना के लिए भूमि अधिग्रहण हेतु 7200 करोड़ रुपये और निर्माण कार्य के लिए 489 करोड़ रुपये बजट की व्यवस्था की।
12:

जानिए किस योजना को कितना बजट
आवास के लिए 10029 करोड़ का प्रावधान
अमृत योजना के लिए 2200 करोड़ का बजट
स्मार्ट सिटी के लिए 2000 करोड़
कान्हा गौशाला के लिए 80 करोड़
मुख्यमंत्री समग्र सम्पदा विकास के लिए 1000 करोड़
पीएम आवास ग्रामीण के लिए 7000 करोड़
राष्ट्रीय रोज़गार गारंटी के तहत 5500 करोड़
पीएम सड़क योजना के लिए 5000 करोड़ की व्यवस्था

सूचना प्रौद्योगिकी कॉम्प्लेक्स का निर्माण
लखनऊ में एयरपोर्ट के सामने नादरगंज में 40 एकड़ क्षेत्रफल में पीपीपी मॉडल पर अत्याधुनिक सूचना प्रौद्योगिकी कॉम्प्लेक्स का निर्माण प्रस्तावित।
जेवर एयरपोर्ट के समीप एक इलेक्ट्रानिक सिटी।
यमुना एक्सप्रेस वे पर जेवर एयरपोर्ट के समीप एक इलेक्ट्रानिक सिटी की स्थापना होगी।

मर्यादा पुरूषोत्तम श्रीराम हवाई अड्डा अयोध्या
तीन वर्षों में उत्तर प्रदेश में ऑपरेशनल एयरपोर्ट्स की संख्या 4 से बढ़कर 7 हो गई। जनपद अयोध्या में निर्माणाधीन एयरपोर्ट का नाम मर्यादा पुरूषोत्तम श्रीराम हवाई अड्डा अयोध्या होगा। इसके लिए 101 करोड़ रुपये की बजट प्रस्तावित किया गया।

 

कानपुर मेट्रो रेल परियोजना में तेजी की तैयारी
कानपुर मेट्रो रेल परियोजना की अनुमोदित लागत 11,076 करोड़ रूपये है। वित्तीय वर्ष 2021-2022 के बजट में परियोजना हेतु 597 करोड़ रूपये आवंटित किए गए हैं। कानपुर मेट्रो रेल परियोजना के प्राथमिक सेक्शन आईआईटी कानपुर से मोतीझील पर ट्रायल रन को जल्द ही किया जाएगा।

चित्रकूट और सोनभद्र एयरपोर्ट पर ध्यान
अयोध्या में एयरपोर्ट के लिए 101 करोड़ रुपये की घोषणा। जेवर एयरपोर्ट के लिए 2000 करोड़। इसके साथ ही चित्रकूट और सोनभद्र एयरपोर्ट से 2021 में हवाई सेवाओ का संचालन शुरू करने का दावा।

 

मर्यादा पुरूषोत्तम श्रीराम हवाई अड्डा अयोध्या
तीन वर्षों में उत्तर प्रदेश में ऑपरेशनल एयरपोर्ट्स की संख्या 4 से बढ़कर 7 हो गई। जनपद अयोध्या में निर्माणाधीन एयरपोर्ट का नाम मर्यादा पुरूषोत्तम श्रीराम हवाई अड्डा अयोध्या होगा। इसके लिए 101 करोड़ रुपये की बजट प्रस्तावित किया गया।

 

मर्यादा पुरूषोत्तम श्रीराम हवाई अड्डा अयोध्या
तीन वर्षों में उत्तर प्रदेश में ऑपरेशनल एयरपोर्ट्स की संख्या 4 से बढ़कर 7 हो गई। जनपद अयोध्या में निर्माणाधीन एयरपोर्ट का नाम मर्यादा पुरूषोत्तम श्रीराम हवाई अड्डा अयोध्या होगा। इसके लिए 101 करोड़ रुपये की बजट प्रस्तावित किया गया।

 

कानपुर मेट्रो रेल परियोजना में तेजी की तैयारी
कानपुर मेट्रो रेल परियोजना की अनुमोदित लागत 11,076 करोड़ रूपये है। वित्तीय वर्ष 2021-2022 के बजट में परियोजना हेतु 597 करोड़ रूपये आवंटित किए गए हैं। कानपुर मेट्रो रेल परियोजना के प्राथमिक सेक्शन आईआईटी कानपुर से मोतीझील पर ट्रायल रन को जल्द ही किया जाएगा।

चित्रकूट और सोनभद्र एयरपोर्ट पर ध्यान
अयोध्या में एयरपोर्ट के लिए 101 करोड़ रुपये की घोषणा। जेवर एयरपोर्ट के लिए 2000 करोड़। इसके साथ ही चित्रकूट और सोनभद्र एयरपोर्ट से 2021 में हवाई सेवाओ का संचालन शुरू करने का दावा।

 

जेवर एयरपोर्ट के लिए 2000 करोड़ का बजट
अयोध्या में एयरपोर्ट के लिए 101 करोड़ का बजट है। जेवर एयरपोर्ट के लिए 2000 करोड़, चित्रकूट और सोनभद्र एयरपोर्ट से 2021 में हवाई सेवाओ का संचालन शुरू हो जाएगा।

आयुर्वेद को बढ़ावा दिया जा रहा
वित्त मंत्री ने बजट भाषण में एलान किया कि आयुर्वेद को बढ़ावा दिया जा रहा है। लखनऊ-पीलीभीत में आयुर्वेद विद्यालयों का काम किया जा रहा है।

 

अयोध्या के लिए 140 करोड़ का एलान
वित्त मंत्री ने एलान किया कि अयोध्या स्थित सूर्यकुंड के विकास सहित अयोध्या नगरी के सर्वांगीण विकास की योजना हेतु बजट में 140 करोड़ रुपये की व्यवस्था का प्रस्ताव है। इसके अलावा लखनऊ में राष्ट्रीय प्रेरणा स्थल के निर्माण हेतु 50 करोड़ रुपये की घोषणा की गई है।

 

कोरोना टीकाकरण के लिए 50 करोड़
वित्त मंत्री सुरेश खन्ना ने एलान किया कि कोरोना टीकाकरण के लिए 50 करोड़ रुपये प्रस्तावित किए गए हैं।

 

गंगा एक्सप्रेस वे परियोजना को बजट
गंगा एक्सप्रेस वे परियोजना के भूमि ग्रहण के लिए 7200 करोड़ और निर्माण कार्य के लिए 489 करोड़ रुपये के बजट व्यवस्था की गई। इसके अलावा बुंदेलखंड क्षेत्र की विशेष योजनाओं के लिए 210 करोड़ रुपये का बजट प्रस्तावित किया गया।

 

गोवंश के सरंक्षण के लिए योजना
सुरेश खन्ना ने कहा कि गोवंश के सरंक्षण के लिए योजना चलाई जा रही है, अलग-अलग जगह पर गोशाला बनाई गई हैं। इसे आगे बढ़ाया जाएगा और अलग-अलग जगहों पर आश्रय स्थलों की संख्या को बढ़ाई जाएगी।

 

बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे के लिए बजट
बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे के लिए 1492 करोड़ रुपये का बजट पेश किया। वित्त मंत्री ने पूर्वांचल एक्सप्रेस वे के लिए 1107 करोड़ रुपये का बजट पेश किया। गोरखपुर एक्सप्रेस वे के लिए 750 करोड़ रुपये का बजट पेश किया।

 

हर जिले में एक मेडिकल कॉलेज बनाने का लक्ष्य है
योगी सरकार ने वित्त वर्ष 2021-22 के लिए अब तक का सबसे बड़ा 5 लाख 50 हजार 270 करोड़ 78 लाख रुपये का बजट पेश किया। इसके तहत हर जिले में एक मेडिकल कॉलेज बनाने का लक्ष्य है। 16 जिलों में मेडिकल कॉलेज बन रहे हैं। मेडिकल शिक्षा के लिए एक हजार करोड प्रस्तावित किए गए हैं।

 

महिला श्रमिकों को बराबरी की मजदूरी दिलाने के लिए कमेटी
वित्त मंत्री सुरेश खन्ना ने बताया कि मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना लाई जा रही है। इसके तहत श्रमिकों को मदद की जाएगी। महिला श्रमिकों को बराबरी की मजदूरी दिलाने के लिए सलाहकार कमेटी का गठन किया गया है। प्रदेश के 18 मंडलों में अटल आवासीय विद्यालय बनाए जाएंगे, जहां श्रमिकों के बच्चों को शिक्षा दी जाएगी।

 

40 छात्रावास बनाए जाएंगे
प्रदेश के 19 जनपदों में कुल 40 छात्रावास बनाए जाएंगे। किताबें भी उपलब्ध कराई जाएंगी। अलग-अलग जनपदों में अधिवक्ताओं के लिए चेंबर बनाए जाएंगे।

 

मेरठ को मिला स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी का तोहफा
यूपी सरकार ने मेरठ में स्पोर्ट्स विश्वविद्यालय बनाने का एलान किया है। इसके साथ ही ग्रामीण क्षेत्रों में ओपन जिम बनाए जाएंगे।

 

सामूहिक विवाह योजना का विस्तार
वित्त मंत्री सुरेश खन्ना ने घोषणा की है कि सामूहिक विवाह योजना का विस्तार किया जाएगा, साथ ही मुख्यमंत्री सक्षम सुपोषण योजना लाई जाएगी। इसके तहत आंगनबाड़ी केंद्रों पर कुपोषित बच्चों को अतिरिक्त पोषण दिया जाएगा।

 

संस्कृत विद्यालयों को गुरुकुल पद्धति के अनुसार संचालित किया जाएगा
वित्त मंत्री सुरेश खन्ना ने कहा कि संस्कृत विद्यालयों को गुरुकुल पद्धति के अनुसार संचालित किया जाएगा। विद्यार्थियों को निःशुल्क छात्रावास और भोजन की व्यवस्था होगी।

 

किसानों के लिए बड़ा एलान
वित्त मंत्री सुरेश खन्ना ने बजट भाषण में कहा कि एक हजार करोड़ से ज्यादा का गन्ना किसानों का भुगतान किया। प्रदेश में अधिक उत्पादक वाली फसलों की पहचान की जाएगी। ब्लॉक स्तर पर कृषक उत्पादन संगठनों की स्थापना होगी और इसके लिए 100 करोड़ रुपये दिए जाएंगे। किसानों को मुफ्त पानी की सुविधा के लिए 700 करोड़ रुपये दिया जाएगा। किसानों को रियायती दाम पर लोन देने का भी एलान किया गया है।

 

किसानों की आय दोगुनी करने का लक्ष्य: वित्त मंत्री
वित्त मंत्री सुरेश खन्ना ने कहा कि किसानों की आय दोगुनी करने का लक्ष्य है। सड़क हादसे में मरने वाले किसानों को पांच लाख की आर्थिक मदद दी गई। वित्त मंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री अभ्योदय योजना शुरू की गई। हर घर में जल, बिजली और बैंकिंग की सुविधा मिलेगी। महिला सुरक्षा के लिए लगातार अभियान चलाए जा रहे हैं।

 

लॉकडाउन में 20 लाख श्रमिकों को आर्थिक मदद दी
वित्त मंत्री सुरेश खन्ना पहली बार पेपर लेस बजट पेश कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि लॉकडाउन में 20 लाख श्रमिकों को आर्थिक मदद दी गई। महामारी से निपटने के लिए ग्यारह टीमों का गठन किया गया। 10 लाख 35 हजार नए राशन कार्ड बनाए गए। महामारी के दौर में कोटा से छात्रों को सुरक्षित निकाला गया।

Related posts

आज शाम को थम जाएगा तीसरे चरण का चुनाव प्रचार, 20 फरवरी को होगा मतदान

Ankit Gupta

लखनऊ- उत्तर प्रदेश में 8 सीएमओ बदले गये

निजी अस्पतालों में मुफ्त मिलेगी रेमडेसिविर, डीएम और सीएमओ को सीएम योगी ने दी जिम्मेदारी

Leave a Comment

Trulli
error: Content is protected !!
Open chat
Need help?
Hello
Welcome to Meerut Darpan News