मेरठ दर्पण
Breaking News
मेरठ

सुभारती विश्वविद्यालय को मिला ग्रीनजोन अवार्ड

मेरठ- शिक्षा, सेवा संस्कार एवं राष्ट्रीयता के मंत्र के साथ देश उत्थान के कार्य कर रहे स्वामी विवेकानन्द सुभारती विश्वविद्यालय ने नया कीर्तिमान स्थापित करते हुए बागवानी के क्षेत्र में उत्तर प्रदेश सरकार के उद्यान विभाग की ओर से पर्यावरण संरक्षण के प्रति उत्कृष्ट कार्य करने पर ग्रीनजोन अवार्ड प्राप्त किया है।
यह ग्रीनजोन अवार्ड सरदार बल्लभ भाई पटेल कृषि एवं प्रौधोगिक विश्वविद्यालय मेरठ के वैज्ञानिक डा. सुनील मलिक तथा जिला उद्यान अधिकारी मेरठ श्री आर.एस.राठौर द्वारा विश्वविद्यालय के समस्त परिसर का निरीक्षण करने के पश्चात दिया गया।

सुभारती विश्वविद्यालय के कुलपति ब्रिगेडियर डा.वी.पी.सिंह ने ग्रीनजोन अवार्ड मिलने पर हर्ष प्रकट करते हुए सभी को बधाई दी। उन्होंने कहा कि सुभारती विश्वविद्यालय प्रकृति के संरक्षण हेतु सजग है एवं विश्वविद्यालय परिसर में विभिन्न प्रकार के फलदार, सदाबहार, शोभाकार, एवं पुष्पीय पौधें रोपित है जो वातावरण को स्वस्थ जलवायु तथा परिसर को सुन्दर बनाने में सहयोग दे रहे है।
सुभारती विश्वविद्यालय की मुख्य कार्यकारी अधिकारी डा.शल्या राज ने ग्रीन जोन अवार्ड मिलने अपनी शुभकामनाएं प्रकट करते हुए कहा कि विश्वविद्यालय शिक्षा, चिकित्सा एवं पर्यावरण के प्रति भी उत्कृष्ट कार्य कर रहा है। उन्होंने बताया कि विश्वविद्यालय में अक्षयवट नर्सरी स्थापना की गई है जहां विभिन्न प्रजातियों के सुन्दर पौधें परिसर में रोपण हेतु उपलब्ध हैं। उन्होंने सभी से अपील करते हुए कहा कि लोग अपने घरों एवं आस पास वृक्षारोपण करके पर्यावरण को सुन्दर बनाने में योगदान करें।

सुभारती विश्वविद्यालय के उद्यान प्रबन्धक श्री एसी पाठक ने बताया कि विश्वविद्यालय ग्रीन जोन की दृष्टि से 8 जोन में बंटा हुआ है जिसमें फलदार, सदाबहार शोभाकार वृक्ष, शर्ब्स आदि को उनकी ऊंचाई के अनुसार तीन श्रेणियों में बांटा गया है। जिसमें 4 फुट तक के 5503 पेड़, 8 फुट तक के 3391 तथा 12 फुट से अधिक के 3389 पेड़ छोटे मध्यम एवं बड़े कुल 12283 वृक्ष परिसर में लगे हुए है। इसके अतिरिक्त हैज एवं ग्राउंड कवर तथा हरियाली लॉन भी बने हुए है। विश्वविद्यालय के समस्त नामित परिसर जैसे मुख्य द्वार, गोल चक्कर, सुभारती अस्पताल, डेन्टल कॉलिज, सुभारती मेडिकल कॉलिज, होटल मैनेजमेंट परिसर, ज्ञानी प्रीतम सिंह खेल मैदान, फिजियोथैरेपी व नर्सिंग कॉलिज, एसटीपी, इंजीनियरिंग कॉलिज, फाईन आर्ट, बोधिउपवन, लॉ कॉलिज, जनरल मोहन सिंह खेल मैदान, मांगल्य प्रेक्षागृह तथा कुलपति कार्यालय परिसर आदि उनके क्षेत्रफल के अनुसार संघन एवं स्वस्थ ग्रीनजोन में स्थापति है। ग्रीनजोन अवार्ड प्राप्त होने में परिसर की हरियाली के अतिरिक्त अक्षयवट नर्सरी की स्थापना एवं नैडप पद्धति से पेड़ों के गिरे हुए पत्ते तथा सूखे फूलों से जैविक खाद तैयार कर परिसर के पौधों में ही प्रयुक्त कर सुयोग्य प्रबन्धन की प्रमुख भूमिका रही है।

Related posts

जिला स्वच्छता समिति की बैठक विकास भवन में संपन्न

Ankit Gupta

फीस कम नही हुई तो स्कूलों में करेंगे तालाबंदी, सड़को पर होगा मार्च,

Mrtdarpan@gmail.com

स्मार्ट मोबाइल फोन पाकर खिले आंगनबाडी कार्यकत्रियों के चेहरे, सरकार का आभार व्यक्त किया

Leave a Comment

Trulli
error: Content is protected !!
Open chat
Need help?
Hello
Welcome to Meerut Darpan News