मेरठ दर्पण
Breaking News
मेरठ

गंभीर मरीजो को कंट्रोल रूम से समन्वय कर एल-3 अस्पताल में भेजे-जिलाधिकारी

जिलाधिकारी ने किया आनंद अस्पताल का निरीक्षण

प्राईवेट अस्पताल डिस्चार्ज प्रोटोकाल का करें पालन-जिलाधिकारी

मेरठ – जिलाधिकारी के0 बालाजी ने आज आनन्द अस्पताल का निरीक्षण किया। जिलाधिकारी ने कहा कि गंभीर मरीजो को एल-3 अस्पताल में जिला स्तर पर संचालित कंट्रोल रूम से समन्वय के साथ भेजे साथ ही मरीज को एम्बुलेन्स में ऑक्सीजन के साथ भेजे। उन्होने कहा कि जो भी बिल लिया जाये वह सरकारी दर पर ही लिया जाये तथा डिस्चार्ज प्रोटोकाल का पूर्णरूपेण पालन किया जाये। आनंद अस्पताल में 36 कोरोना धनात्मक मरीज अपना उपचार करा रहे है।
जिलाधिकारी ने आनन्द अस्पताल के निरीक्षण के दौरान वहां सीसीटीवी से की जा रही माॅनीटरिंग को देखा तथा गत दिनों हुयी मृत्यु की डेथ समरी को देखा व इसका रैट्रोइस्पेक्टीव (पष्चादर्षी) मूल्यांकन करने के लिए कहा। उन्होने कहा कि प्राईवेट अस्पताल मरीज को समय से मेडिकल कालेज के लिए रेफर करें तथा प्रोटोकाल का पालन करें। उन्होने बताया कि डेडीकेटेड कोविड अस्पताल आनंद अस्पताल 100 बैड की क्षमता वाला है, जिसमें वर्तमान में 36 कोरोना पाजिटीव मरीज अपना ईलाज करा रहे है। यह एक एल-2 स्तर का अस्पताल है।
डा0 पी0पी0 सिंह ने बताया कि आनंद अस्पताल में वर्तमान में 36 कोरोना मरीज अपना ईलाज करा रहे है जिसमें से 30 मेरठ के, 04 मुजफ्फरनगर व 02 हापुड के है।
इस अवसर पर सीएमओ डा0 अखिलेश मोहन, डा0 पी0पी0 सिंह, आनंद अस्पताल के डा0 सुभाष यादव, डायरेक्टर मानसी आनंद सहित अन्य चिकित्सक व अधिकारीगण उपस्थित रहे।

Related posts

धर्म परिवर्तन और पॉक्सो एक्ट में हुआ मुकदमा दर्ज,आरोपी को भेजा जेल

Mrtdarpan@gmail.com

पौधरोपण कर चलाया स्वच्छता अभियान

भारतीय किसान यूनियन का धरना लगातार 86वें दिन सिवाया टोल प्लाजा मेरठ पर जारी रहा

Leave a Comment

Trulli
error: Content is protected !!
Open chat
Need help?
Hello
Welcome to Meerut Darpan News