मेरठ दर्पण
Breaking News
दिल्ली

अयोध्या विध्वंस के प्रबल साक्ष्य नहीं, आडवाणी समेत सभी आरोपित बरी

सीबीआई कोर्ट के स्पेशल जज ने सुनाया फैसला………

नई दिल्ली-विशेष जज एसके यादव फैसला पढ़ना शुरू कर दिया है। उन्होंने कहा कि अयोध्या विध्वंस पूर्व नियोजित नहीं था।
यह आकस्मिक घटना थी। विशेष जज एसके यादव ने कहा कि घटना के प्रबल साक्ष्य नही हैं। जज नें इस दौरान अशोक सिंहल का उल्लेख कई बार किया।
देश की राजनीतिक दिशा को परिवर्तित कर देने वाले अयोध्या विध्वंस मामले में बुधवार को सीबीआइ की विशेष अदालत फैसला सुनाया। 28 साल से चल रहे इस मुकदमे में भारतीय जनता पार्टी के कई वरिष्ठ नेता भी आरोपित हैं। लालकृष्ण आडवाणी, डा. मुरली मनोहर जोशी, उमा भारती, महंत नृत्य गोपाल दास, कल्याण सिंह, सतीश प्रधान छोड़कर सभी 26 अभियुक्त कोर्ट रूम में पहुंचे।

Related posts

जानिए किस लालच ने ओलंपियन सुशील को बना दिया हत्यारोपी, गिरफ्तारी के बाद खुलासा

भारत के इतिहास में आज पंजाब की पुण्य भूमि पर कांग्रेस के खूनी इरादे नाकाम रहे-स्मृति ईरानी

एक साल में देश के सभी जगहों से हट जाएंगे टोल प्लाजा, गडकरी ने संसद में किया ऐलान

Trulli
error: Content is protected !!
Open chat
Need help?
Hello
Welcome to Meerut Darpan News