मेरठ दर्पण
Breaking News
व्यापार

आखिर क्यों कंपनी दे रही है 50 महीने की सैलरी का बोनस जानने के लिए, पढ़ें पूरी खबर

ताइवान की एवरग्रीन मरीन कॉरपोरेशन ने 1 साल शानदार काम और शानदार कमाई होने के बाद अपने कर्मचारियों में भी खुशी का इजहार करने के लिए बोनस देने का मन बनाया है.कंपनी की ओर से जो इशारा मिल रहा है उसके अनुसार कंपनी अपने कर्मचारियों को 50 महीने की सैलरी बोनस के रूप में देने जा रहे हैं.यह बोनस कर्मचारियों के ग्रेड और काम के अनुसार दिया जाएगा साथ ही यह भी साफ है कि कंपनी यह बोनस केवल उन्हें कर्मचारियों को देगी जो ताइवान में रहकर कंपनी को सेवा दे रहे हैं.इस बारे में अभी तक कंपनी आधारित बयान नहीं दिया है.

एक रिपोर्ट के अनुसार बताया जा रहा है कि कंपनी की ओर से केवल इतना ही बयान दिया गया हैकि साल के अंत में दिया जाने वाला बोनस कंपनी के साल भर के काम पर निर्भर करता है और कंपनी में काम करने वाले कर्मचारियों के काम के हिसाब से भी यह बोनस तय किया जाता है.कंपनी ने बोनस पर ज्यादा जानकारी देने से इंकार कर दिया है.
बता दें कि एवरग्रीन मरीन की कमाई में तेजी से इजाफा इसलिए हुआ है क्योंकि पूरी शिपिंग इंडस्ट्री में पिछले 2 साल में काफी उछाल आया है करो ना काल के दौरान कंज्यूमर गुड्स और भाड़े में बढ़ोतरी की वजह से कंपनी के रेवेन्यू में 2022 में 3 गुना का इजाफा हुआ.
जानकारी के लिए बता दें कि एवरग्रीन मरीन का नाम तब चर्चा में आया था। जब 2021 में कंपनी का एक से सूरज नगर में फस गया था। ताइपे के एक इकोनामिक दिल्ली न्यूज़ के अनुसार कंपनी 52 महीने सैलरी बोनस के रूप में देने जा रही हैं अखबार की पिछले हफ्ते की रिपोर्ट में कहा गया है कि कंपनी के कुछ कर्मचारियों के खाते में $65000 आप भी गए हैं।खबर में भी केवल सूत्रों की जानकारी है ऐसी जानकारी किसने जानकारी दी इस बारे में अभी कुछ भी नहीं बताया गया है।
उल्लेखनीय यह है कि कंपनी के इस कदम का फायदा केवल ताइवान में कार्यकर्ता लोगों को सीधे मिल रहा है।कंपनी के सगाई में कार्य करते लोगों की शिकायत है कि उन लोगों को वेतन का पांच से 8 गुना ही बोनस के रूप में दिया जा रहा है। उन लोगों की शिकायत यह भी है कि कंपनी उनके साथ भेदभाव कर रही हैं।
वैश्विक माहौल को देखते हुए यह कहा जा सकता है कि आने वाले समय में कंपनी का मुनाफा इतना तेजी से नहीं बढ़ने वाला है। वैश्विक मंदी के आसार के बीच माना जा रहा है कि कंपनी का मुनाफा आगे कम होगा।

Related posts

80.06 के अब तक के सबसे निचले स्तर पर पहुंचने के बाद हुआ रुपया 79.85 प्रति डॉलर पर स्थिर

Ankit Gupta

ओरंगाबाद में हुई महाराष्ट टेंट डीलर वेलफेयर ऑर्गनाइजेशन की तीसरी वार्षिक सभा

Royal Enfield लवर्स के लिए बड़ी खबर, बहुत ही कम दाम में मिल रहा है ये शानदार मॉडल

Ankit Gupta

Leave a Comment

Trulli
error: Content is protected !!
Open chat
Need help?
Hello
Welcome to Meerut Darpan News