मेरठ दर्पण
Breaking News
मेरठ

एमआईईटी का आईसीटीई द्वारा आइडिया लैब स्थापित करने के लिए चयन

– छात्रों के भविष्य के लिए 1.10 करोड़ रुपये के निवेश से बनेगी आइडिया लैब

मेरठ । मेरठ इंस्टिट्यूट ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी, मेरठ के प्रबंधन ने संस्थान के द्वारा हासिल की जाने वाली उपलब्धियों के विषय में खुशी जाहिर की और कहा कि एमआईईटी खुद को लगातार बेहतर से बेहतर बनाने के लिए अपनी कमर कसे हुये है। इसी कड़ी में एआईसीटीई ने एमआईईटी को आईडिया लैब (आइडिया डेवलपमेंट, इवैल्यूएशन एंड एप्लीकेशन) के लिए चयन किया है। इसके साथ ही एमआईईटी आईडिया लैब के लिए चयनित देश के चुनिंदा 49 इंजीनियरिंग इंस्टिट्यूट्स में शामिल हो गया है।
आईडिया लैब स्थापना के लिए आवेदन करने वाले 204 कॉलेजों में से केवल 49 कॉलेजों का चयन किया गया और एमआईईटी मेरठ ने फिर से अपनी क्षमता साबित की है और प्रदर्शन मेट्रिक्स और डेटा संग्रह के आधार पर एमआईईटी को अपने परिसर में आइडिया लैब स्थापित करने के लिए चयनित किया गया है। आइडिया लैब चौबीसों घंटे खुली रहेगी और इस प्रयोगशाला की स्थापना करके संस्थान छात्रों को विज्ञान, प्रौद्योगिकी, इंजीनियरिंग और गणित (स्टेम) के मूल सिद्धांतों के अनुप्रयोग के लिए प्रोत्साहित करेगा, ताकि वे व्यावहारिक अनुभव करके सीखने और उत्पाद की कल्पना कर सकें।
एआईसीटीई आईडिया लैब की अनुमानित परियोजना लागत 1.34 करोड़ रुपये की होगी। एआईसीटीई 50 प्रतिशत यानी 46 लाख रुपये तक संस्थान को अनुदान के रूप में देगा। शेष 50 प्रतिशत लागत यानी 88 लाख रुपए संस्थान तथा इंडस्ट्री पार्टनर्स के द्वारा उपलब्ध कराई जाएगी।
चेयरमैन विष्णु शरण ने कहा कि सभी उपलब्धियां न केवल संस्थान के प्रत्येक क्षेत्र जैसे शिक्षण एवं शिक्षक गुणवत्ता, छात्र गुणवत्ता, बेहतरीन प्लेसमेंट, विश्व स्तरीय इन्फ्रास्ट्रक्चर तथा उद्योग जगत के साथ कुशल गठबंधनों का परिणाम है बल्कि स्वयं को लगातार पहले से और बेहतर बनाने नए मापदंड स्थापित करने के एमआईईटी के जज़्बे को प्रदर्शित करता है।
वाइस चेयरमैन पुनीत अग्रवाल ने कहा की एमआईईटी ने नई तकनीकों को एक दशक पहले ही अपना लिया था। हमारे स्‍टूडेंट इंडस्‍ट्री 4.0 के साथ-साथ नवीनतम तकनीकों को सीखने और अपनाने में हमेशा आगे रहे हैं, जिसका परिणाम कॉलेज के बेहतरीन प्‍लेसमेंट में साल-दर-साल दिखता रहा है। एमआईईटी ने इंजीनियरिंग, फार्मेसी और प्रबंधन के क्षेत्र में एक प्रगतिशील परिवर्तन लाने के लिए हमेशा बड़ी पहल की है और उत्कृष्टता के लिए लगातार प्रयास कर रहा है।
इस अवसर पर निदेशक डॉ मयंक गर्ग, डीन एकेडमिक संतोष दास, डीन बिजनेस स्कूल डॉ देव कुमार अरोड़ा, प्रिंसिपल फार्मेसी डॉ नितिन शर्मा ने बधाई दी।

Related posts

आगामी दस वर्षों में देश के शीर्ष 20 शिक्षण संस्थानो की सूची में वेंक्टेश्वरा को शुमार कराना मुख्य लक्ष्य- डॉ0 सुधीर गिरि,

खाकी ने ड्यूटी के साथ निभाया इंसानियत का फर्ज

दो पक्षों मे वर्चस्व को लेकर धांय-धांय, वीडियो वायरल

Leave a Comment

Trulli
error: Content is protected !!
Open chat
Need help?
Hello
Welcome to Meerut Darpan News