मेरठ दर्पण
Breaking News
मेरठ

पर्यावरण संरक्षण से ही कोरोना को हराया जा सकता है – कुलपति ब्रिगेडियर डा. वी.पी.सिंह

प्रकृति को संरक्षित करने के उद्देश्य से सुभारती विश्वविद्यालय में विश्व पर्यावरण दिवस का आयोजन। विश्वविद्यालय परिसर में वृक्षारोपण, पोस्टर मेकिंग प्रतियोगिता, पर्यावरण संरक्षण कानून के विषय पर कार्यशाला सहित विश्वविद्यालय के सभी संकायों एवं विभागों में कार्यक्रमों के माध्यम से पर्यावरण संरक्षण का संदेश दिया गया।

मेरठ। स्वामी विवेकानन्द सुभारती विश्वविद्यालय में पर्यावरण दिवस उत्साह के साथ मनाया गया। पर्यावरण दिवस का शुभारंभ सुभारती विश्वविद्यालय के कुलपति ब्रिगेडियर डा.वी.पी.सिंह ने अक्षयवट नर्सरी में पौधा रोपित करके किया। उन्होंने कहा कि वर्तमान कोरोना महामारी को प्रकृति की मदद से हराया जा सकता है। उन्होंने कहा कि पेड़ पौधें सहित सभी प्राकृतिक संसाधन हमारे जीवन का संरक्षण करते है लेकिन पर्यावरण प्रदूषण के कारण विश्वभर में विभिन्न प्रकार की आपदाएं आ रही हैं जिसकी रोकथाम हेतु वृक्षारोपण, वर्षा जल संचयन सहित हमें जागरूक होने की आवश्यकता है। उन्होंने बताया कि सुभारती विश्वविद्यालय भारत का ऐसा विश्वविद्यालय है, जो पर्यावरण संरक्षण के लिए बेहद सजग है जिसमें विश्वविद्यालय के कैम्पस व हास्टल में प्लास्टिक के प्रयोग पर प्रतिबंध है। उन्होंने बताया कि विश्वविद्यालय में आने वाले समस्त अतिथियों का स्वागत सुभारती पर्यावरण संरक्षण अधिनियम के तहत पौधा भेंट करके किया जाता है। इसके अलावा प्रदूषण रोकने के लिए सप्ताह में एक दिन विश्वविद्यालय में कार का प्रयोग नही किया जाता है। उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय परिसर सहित शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों में जैविक खाद के प्रयोग से वृक्षारोपण करके लोगो को पर्यावरण संरक्षण के प्रति जागरूक किया जा रहा है।

मुख्य कार्यकारी अधिकारी डा.शल्या राज

सुभारती विश्वविद्यालय की मुख्य कार्यकारी अधिकारी डा.शल्या राज ने पर्यावरण दिवस की सभी को बधाई दी। उन्होंने कहा कि जिस प्रकार हम अपने परिवार का ध्यान रखते है इसी प्रकार हमें अपनी प्रकृति का भी ध्यान रखने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि हमारा जीवन प्रकृति पर निर्भर है इसलिय हमें अपने पर्यावरण का संरक्षण करना चाहिए और इसी क्रम में सुभारती विश्वविद्यालय समय समय पर वृक्षारोपण कार्यक्रम आयोजित करके प्रकृति को हराभरा रखने में लिए अपने विद्यार्थियों को संदेश दे रहा है। उन्होंने बताया कि सुभारती विश्वविद्यालय में वर्षा के जल का संचयन किया जा रहा है और परिसर में इसकी यूनिट भी स्थापित है। उन्होंने लोगो से अपील करते हुए कहा कि आज के दिन जितने भी पेड़ लगाए जाए उन सभी को गोद लेकर जीवन भर उनको संरक्षित किया जाए ताकि पर्यावरण दिवस के मूल उद्देश्य को पूर्ण किया जा सकें।

विश्वविद्यालय भर में ये हुए कार्यक्रम…

अक्षयवट नर्सरी में उद्यान प्रबन्धक एसी पाठक द्वारा आयोजित वृक्षारोपण कार्यक्रम में कुलपति ब्रिगेडियर डा. वी.पी. सिंह ने पौधा रोपित किया। सुभारती मेडिकल कॉलिज में राष्ट्रीय सेवा योजना के तहत डा. राहुल बंसल एवं डा. सत्यम खरे ने पर्यावरण संरक्षण की शपथ दिलाई। सुभारती डेन्टल कॉलिज, नर्सिंग कॉलिज, लॉ कॉलिज, इंजीनियरिंग कॉलिज, फाईन आर्ट कॉलिज, नेचुरोपैथी कॉलिज, होटल मैनेजमेंट, फार्मेसी कॉलिज, शिक्षा संकाय, पत्रकारिता संकाय, बुद्धिस्ट स्टडीज, कॉलेज ऑफ साइंस, आदि सहित सभी संकायों एवं विभागों में पर्यावरण संरक्षण के विषय पर विभिन्न प्रकार की ऑनलाइन प्रतियोगिताएं व कार्यशाला तथा अतिथि व्याख्यान के आयोजन से पर्यावरण संरक्षण का संदेश दिया गया।

इस अवसर पर मेडिकल कॉलिज के प्राचार्य डा.ए.के.श्रीवास्तव, कम्यूनिटी मेडिसन विभागाध्यक्ष डा. राहुल बंसल, डेन्टल कॉलिज के प्राचार्य डा. निखिल श्रीवास्तव, नर्सिंग कॉलिज की प्राचार्य डा. गीता प्रबन्दा, लॉ कॉलिज के प्राचार्य डा. वैभव गोयल भारतीय, फाईन आर्ट कॉलिज के प्राचार्य डा. पिन्टू मिश्रा, इंजीनियरिंग कॉलिज के प्राचार्य डा. मनोज कपिल, नेचुरोपैथी कॉलिज के प्राचार्य डा. अभय शंकरगौड़ा, फार्मेसी कॉलिज के प्राचार्य डा. सोकिन्द्र कुमार, होटल मैनेजमेंट के प्राचार्य डा. शिवमोहन वर्मा, पत्रकारिता कॉलिज के प्राचार्य डा. नीरज कर्ण सिंह, शिक्षा संकाय के अध्यक्ष डा. संदीप कुमार, बुद्धिस्ट स्टडीज की एचओडी डा. नीलिमा चौहान, साइंस कॉलिज के प्राचार्य डा. महावीर सिंह आदि ने अपने संकायों एवं विभागों में पर्यावरण संरक्षण दिवस पर वृक्षारोपण करते हुए विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किये।

Related posts

कासमपुर में भगवान श्री राम मंदिर को लेकर विशेष बैठक

27 जनवरी को आयुक्त से मिलेंगे भाकियू नेता

मेरठ सहित 10 जिलों में नाइट कर्फ्यू का बदला समय

Leave a Comment

Trulli
error: Content is protected !!
Open chat
Need help?
Hello
Welcome to Meerut Darpan News