मेरठ दर्पण
Breaking News
लखनऊ

यूपी बोर्ड परीक्षा का फर्जी शेड्यूल वायरल

 

 

 

लखनऊ-यूपी बोर्ड परीक्षा को लेकर सोशल मीडिया पर वायरल हो रही एक फर्जी समय सारणी पर माध्यमिक शिक्षा विभाग ने कहा कि इस संबंध में अभी तक कोई भी कार्यक्रम जारी नहीं किया गया है। वायरल हो रही समय सारणी फर्जी है।

 

दरअसल, परीक्षाओं को लेकर माध्यमिक शिक्षा विभाग कई विकल्पों पर काम कर रहा है। विभाग के अधिकारी जल्द ही अपना प्रस्ताव सरकार के समक्ष प्रस्तुत करेंगे। मई के अंतिम सप्ताह तक सरकार इस पर निर्णय ले सकती है।

 

बोर्ड के अधिकारी ने बताया कि एक विकल्प यह है कि जुलाई के पहले सप्ताह से हाई स्कूल और इंटरमीडिएट दोनों की परीक्षा कराई जाए। एक विकल्प हाई स्कूल की परीक्षा रद्द कर इंटरमीडिएट की परीक्षा कराने का है। तीसरा विकल्प स्कूलों की ओर से भेजे गए आंतरिक मूल्यांकन के अंकों के आधार पर बोर्ड परीक्षा के अंक देकर प्रमोट करने का है।

चौथा विकल्प है कि सीबीएसई की तर्ज पर पांच-पांच  शिक्षकों की कमेटी गठित कर मूल्यांकन कराकर परिणाम जारी किया जाए। इंटर की परीक्षा को लेकर विभाग सीबीएसई के निर्णय का इंतजार कर रहा है। उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा का कहना है कि 20 मई के बाद बैठक कर मुख्यमंत्री के निर्देशानुसार निर्णय लिया जाएगा।

Related posts

शबनम से मौत कुछ दिन के लिए हुई दूर

गैर मान्यताप्राप्त पत्रकारों को क्यों नजरअंदाज कर रही है सरकारें

पांचवा चरण : शुक्रवार को थमेगा प्रचार, 27 फरवरी को 61 सीटों के लिए होगा मतदान

Ankit Gupta

Leave a Comment

Trulli
error: Content is protected !!
Open chat
Need help?
Hello
Welcome to Meerut Darpan News